Feed Item

पहले भी टूट कर गिरा हूँ मैं

कुछ वक्त लगा बिखर कर सिमटने में पर जुड़ा हूं मैं।


उम्मीदों के बादल में अरमानों की उड़ान थी मेरी

नाकामियों की बारिश का अंदाजा नहीं था

लड़ने का हौंसला तो था पर इतना ज्यादा नहीं था।

बेशक भीग कर गिरा था पर बारिश से जी भर लड़ा हूं मैं,

पहले भी टूट कर गिरा हूँ मैं

कुछ वक्त लगा बिखर कर सिमटने में पर जुड़ा हूं मैं।


बादलों को देख कर डरता नहीं हूं

कई दफा भीगे पंखों से उड़ा हूं मैं।

पहले भी टूट कर गिरा हूँ मैं

कुछ वक्त लगा बिखर कर सिमटने में पर जुड़ा हूं मैं।

0 0 0 0 0 0